December 11, 2019

Breaking News

उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू रुड़की एवं देहरादून के कार्यक्रमों में हुए शामिल

utkarshexpress.com । देहरादून।  उप राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू शनिवार को एक दिवसीय दौरे पर देहरादून व रुड़की पहुँचे। उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू का जॉलीग्रांट एयरपोर्ट पर राज्यपाल बेबी रानी मौर्य, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक, उच्च शिक्षा राज्य मंत्री धन सिंह रावत, प्रमुख सचिव उत्पल कुमार, डीजीपी अनिल रतूड़ी सहित मौजूद अधिकारियों ने पुष्पगुच्छ देकर उपराष्ट्रपति का गर्मजोशी से स्वागत किया। जॉलीग्रांट एयरपोर्ट से उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू एमआइ17 हेलीकॉप्टर से रुड़की के लिए रवाना हो चुके हैं। उपराष्ट्रपति के दौरे को देखते हुए एयरपोर्ट के अंदर व बाहर सुरक्षा के बेहद कड़े बंदोबस्त किए गए थे।उप राष्ट्रपति का विमान सुबह करीब नौ बजे जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर उतरे। यहां से वह हेलीकॉप्टर से रुड़की पहुंचेंगे। रुड़की के कुंजापुर गांव में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने के बाद दोपहर करीब पौने एक बजे रुड़की से हेलीकॉप्टर के जरिए आइएमए हेलीपैड पहुंचेंगे। यहां से वह सड़क मार्ग से बिधौली स्थित यूनिवर्सिटी ऑफ पेट्रोलियम एंड एनर्जी स्टडीज (यूपीईएस) पहुंचेंगे। यहां दीक्षा समारोह में बतौर मुख्य अतिथि शामिल होने के बाद वापस आइएमए आएंगे। आइएमए से हेलीकॉप्टर से शाम पांच बजे जौलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंच कर विशेष विमान से दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे। यूनिवर्सिटी ऑफ पेट्रोलियम एंड एनर्जी स्टडीज के दीक्षा समारोह में शामिल होने शनिवार को देहरादून पहुंच रहे उप राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर फुल ड्रेस रिहर्सल की गई। इससे पूर्व सभी अधिकारियों व पुलिसकर्मियों को पुलिस महानिदेशक अपराध एवं कानून व्यवस्था अशोक कुमार ने ब्रीफ किया। जबकि रिहर्सल के उपरांत आइजी अभिसूचना एपी अंशुमान व एसएसपी अरुण मोहन जोशी ने डी-ब्रीफिंग की।

पुलिस लाइन में ब्रीफिंग के दौरान डीजी एलओ अशोक कुमार ने कहा कि सभी अधिकारी व पुलिसकर्मी तय समय से तीन घंटे पहले ड्यूटी प्वाइंट पर पहुंच जाएं। आसपास का विधिवत निरीक्षण करने के दौरान यदि उन्हें कोई संदिग्ध वस्तु या व्यक्ति दिखता है तो तुरंत उच्चाधिकारी को सूचना दें। उन्होंने कहा कि मुख्य कार्यक्रम स्थल पर किसी भी व्यक्ति को बैग, कैमरा या अन्य कोई संदिग्ध वस्तु न ले जाने दिया जाए। उन्होंने हिदायत दी कि जिन स्थानों पर यातायात का अत्यधिक दबाव रहता है। वहां रस्सों आदि से बैरीकेडिंग कर दी जाए, ताकि उप राष्ट्रपति के काफिले के गुजरने के दौरान किसी तरह का व्यवधान उत्पन्न न हो। उप राष्ट्रपति के पहुंचने से पहले एयरपोर्ट और मुख्य कार्यक्रम स्थल का एंटी सेबोटाज चेकिंग अनिवार्य रूप से की जाए। ड्यूटी में लापरवाही पाए जाने पर संबंधित के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। ब्रीफिंग में डीआइजी अभिसूचना करन सिंह नगन्याल, एसएसपी कुंभ जन्मेजय खंडूड़ी, सेनानायक 46वीं वाहिनी पीएसी सुखबीर सिंह व एसपी सीआइडी मणिकांत मिश्र व अन्य अधिकारी मौजूद रहे। उप राष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू के दौरे और आइएमए की परेड को लेकर शनिवार को चकराता रोड पर पूरे दिन रूट डायवर्ट रहेगा। यातायात पुलिस के अनुसार आइएमए की परेड को लेकर सुबह सात बजे से दोपहर बारह बजे तक रूट डायवर्जन का प्लान तैयार किया गया है, जिसे परेड खत्म होने के बाद भी जारी रखा जाएगा। उप राष्ट्रपति के शाम करीब साढ़े चार बजे जौलीग्रांट एयरपोर्ट के लिए रवाना हो जाने के बाद यातायात सामान्य कर दिया जाएगा।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *