12 घण्टे का अबाध अंतर्राष्ट्रीय साहित्यिक यज्ञ - विवेक बादल बाजपुरी 

pic

utkarshexpress.com पिण्डवाड़ा (राजस्थान)- बुलंदी साहित्यिक सेवा समिति (पंजीकृत राष्ट्रीय स्तर) के संस्थापक बाजपुर के युवा कवि विवेक बादल बाज़पुरी अपनी संस्था बुलंदी के तत्वावधान हिंदी दिवस के उपलक्ष्य में 12 घण्टे का अनवरत अंतर्राष्ट्रीय साहित्यिक यज्ञ आयोजित करवा रहे है l जिसमे हिन्दुस्तान के साथ -साथ  आस्ट्रेलिया , न्यूजीलैंड, कनाडा, जर्मनी, अमेरिका, मॉरीशस, दुबई, सऊदी, कतर, अफगानिस्तान , भूटान , केलिफोर्नया , सिंगापुर, थाईलैंड , तंजानिया, रशिया , बेल्जियम, इथोपिया, ओमान, तिब्बत ,पुर्तगाल सहित दुनिया के 25 देशों से ज़्यादा हिंदी कलमकारों ने इस कविता के महायज्ञ उपस्थित होने की स्वीकृति प्रदान कर दी है l समस्त क़लमकार अपनी कविताओं का काव्य पाठ आनलाइन माध्यम से करेंगे । जिसका प्रसारण बुलंदी के यूटयूब चैनल पर होगा ।   
मीडिया प्रभारी गुरुदीन वर्मा के अनुसार यह कार्यक्रम 14 सिंतम्बर को दोपहर 12 बजे प्रारम्भ होकर रात्रि 12 बजे तक 12 घण्टे लगातार अनवरत चलेगा l बादल बाजपुरी से हुई वार्ता के अनुसार उन्होंने बताया कि उनका जीवन साहित्य को समर्पित है । वो पिछले दस वर्षों से साहित्य जगत में बाजपुर उत्तराखंड का प्रतिनिधित्व कर रहे है और हिंदी भाषा के प्रचार - प्रसार हेतु कार्य कर रहे हैं l मीडिया प्रभारी वर्मा ने बताया कि पिछले वर्ष बुलंदी संस्था ने हिंदी के प्रचार - प्रसार हेतु 207 घण्टे का अनवरत कार्यक्रम आयोजित करवाया था l जिसे इंडिया वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज भी किया गया है l और इसी वर्ष 21 अगस्त से 5 सिंतम्बर तक अनवरत 370 घण्टे का अंतर्राष्ट्रीय वर्च्युअल कवि सम्मेलन करवाया है l जिसे विश्व रिकॉर्ड के रूप मे इंडिया वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज किया जाएगा l भारत सरकार की राजभाषा नीति/ नियमों के अनुसरण में राजभाषा हिन्दी के प्रचार-प्रसार के लिए वर्ष भर कई समारोहों का आयोजन किया जाता है। प्रत्येक वर्ष 14 सितम्बर को 'हिन्दी दिवस' मनाया जाता है और 1 सितम्बर से 15 सितम्बर तक हिन्दी पखवाड़ा मनाया जाता है। यह आयोजन उसी के अंतर्गत आयोजित किया जा रहा है l

Share this story