मेरे दुश्मन है बहुत ही -  गुरुदीन वर्मा.

pic

मेरे दुश्मन है बहुत ही, उनसे तू मिल लेना।
साथ वो तेरा देंगें, मेरा खून करवा लेना।।
मेरे दुश्मन है बहुत ही -----------------------।।
तुमको जरूरत है अब तो, जानने की बहुत ही।
मेरी कमजोरी है क्या, उनसे ही पूछ लेना।।
मेरे दुश्मन है बहुत ही ---------------------।।
अब तो खुलकर मुझको भी,होना है तेरे जैसा।
मेरे दिल में अब नहीं तू ,पनाह उनकी ले लेना।।
मेरे दुश्मन है बहुत ही--------------------------।।
उनको भी चाहिए अब दिल, शौक पूरे करने को।
कमी तुझमें नहीं है कोई, मौज उनसे कर लेना।।
मेरे दुश्मन है बहुत ही---------------------------।।
होगी उनसे बेपर्दा, शेष जो है मेरी इज्जत।
खुशी तुमको बहुत होगी, गले उनको लगा लेना।।
मेरे दुश्मन है बहुत ही-----------------------।।
- गुरुदीन वर्मा.आज़ाद
तहसील एवं जिला- बारां (राजस्थान)

Share this story