उत्तराखंड क्रांति दल के अधिवेशन का पहला दिन बेहद हंगामेदार रहा

 
uk

अधिवेशन के पहले दिन उत्तराखंड क्रांति दल के कोषाध्यक्ष टीएस कार्की ने 2 साल के आय-व्यय का ब्यौर सदन में रखा।

 इसके अलावा उन्होंने भविष्य में होने वाले खर्चों की रूपरेखा भी सामने रखी। जिसे सदन ने ध्वनिमत से पारित कर दिया।

 उत्तराखंड क्रांति दल के केंद्रीय प्रवक्ता अनुपम खत्री ने पार्टी के 2 साल की गतिविधियां और कार्यक्रम  सदन के समक्ष रखा।

 अधिवेशन में शामिल विभिन्न जिलों से आए पदाधिकारियों ने कार्यक्रमों की समीक्षा की तथा भविष्य के विभिन्न आयोजनों पर चर्चा की।

 उत्तराखंड क्रांति दल के केंद्रीय मीडिया प्रभारी शिवप्रसाद सेमवाल ने कहा कि अधिवेशन के दूसरे दिन पार्टी का स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया जाएगा।

 अधिवेशन में टिहरी, उत्तरकाशी, अल्मोड़ा, काशीपुर से लेकर सैकड़ों की संख्या में  विभिन्न जिलों के पदाधिकारी और कार्यकर्ता शामिल रहे।

गौरतलब है कि पहले मानसून के सीजन को देखते हुए और पहाड़ों की दुर्गम परिस्थितियों को देखते हुए केंद्रीय नेतृत्व ने अधिवेशन का समय नवंबर अंतिम सप्ताह तक के लिए स्थगित कर दिया था, किंतु कार्यकर्ताओं के भारी विरोध के चलते यूकेडी का अधिवेशन अपनी पूर्व घोषित तिथि पर ही आयोजित किया गया।

हालांकि गैरसैंण से इसका आयोजन स्थल बदलकर देहरादून  कर दिया गया।

यूकेडी महिला प्रकोष्ठ की अध्यक्ष सुलोचना ईष्टवाल ने कहा कि समस्त कार्यकर्ता पार्टी के झंडे के नीचे एकजुट है और पार्टी के लिए पूरी तरह से समर्पित हैं।

 अधिवेशन में काशीपुर जिला अध्यक्ष जगदीश चंद्र बौराई के नेतृत्व में काफी बड़ी टीम अधिवेशन में शामिल हुई।

 इनके साथ महिला मोर्चा की जिला अध्यक्ष कुसुम बौड़ाई भी तमाम पदाधिकारियों के साथ अधिवेशन में भागीदारी की तो वहीं परवादून से जिला अध्यक्ष संजय डोभाल और ऋषिकेश महानगर से उपेंद्र सकलानी के नेतृत्व में तमाम पार्टी पदाधिकारी अधिवेशन में शामिल हुए।

 इसके अलावा टिहरी से युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष विशन कंडारी, अल्मोड़ा के यूकेडी नेता गिरीश गोस्वामी के नेतृत्व में तमाम पदाधिकारी अधिवेशन में शामिल हुए।

अधिवेशन में यूकेडी श्रमिक प्रकोष्ठ के अध्यक्ष राजेंद्र पंत, वाणिज्य प्रकोष्ठ के अध्यक्ष भुवन पंत, आंदोलनकारी सुरेंद्र सिंह चौहान, बलवीर सिंह नेगी, गुलाब सिंह रावत, पूर्व महानगर अध्यक्ष प्रमोद कुमार डोभाल, शैलेंद्र गुसाईं, विनोद कोठियाल, राजेंद्र गसाई, मंजू रावत, सरोज रावत, मनोरमा चमोली,  कलावती नेगी, पुष्पा नेगी, रचना थपलियाल  मंजू बहुगुणा, शशि देवी, उमा खंडूरी, रामेश्वरी नौटियाल, रंजना उपाध्याय, देवेश्वरी थापा, संजय तितोरिया, राधे श्याम, गोविंद अधिकारी, प्रवीण कुमार, प्रदीप रावत,  बीना नेगी, मधु सेमवाल, उत्तरा पंत बहुगुणा, संजय बहुगुणा आदि यूकेडी पदाधिकारी और कार्यकर्ता शामिल थे।

Share this story