पावर बैंक एप में निवेश के नाम पर धोखाधड़ी कर करोड़ो रुपये

crime

utkarshexpress.com हरिद्वार। साइबर अपराधियों द्वारा पावर बैंक नामक एप के माध्यम से पैसे इन्वेस्ट करने पर 15 दिन मे पैसे दोगुने करने का लालच देने के मामले में साइबर क्राईम पुलिस स्टेशन को पीडित श्री रोहित कुमार निवासी श्यामपुर जनपद हरिद्वार द्वारा साइबर क्राईम पुलिस स्टेशन देहरादून तथा राहुल कुमार गोयल निवासी कनखल हरिद्वार द्वारा शिकायत प्रेषित की गयी थी, जिसमें उनके द्वारा प्ले-स्टोर से पावर बैंक नामक ऐप डाउनलोड कर भिन्न भिन्न तिथियो में क्रमशः 91,200/- (इकानब्बे हजार दो सौ) एवं 73,000/- (तिहत्तर हजार) रुपये जमा कराये गये थे।
विवेचना निरीक्षक श्री महेश्वर पुर्वाल के सुपूर्द कर STF एवं साइबर थाने की संयुक्त टीम का गठन किया गया । उक्त प्रकार के अपराध के सम्बन्ध में जनपद टिहरी गढ़वाल में भी एक अभियोग पंजीकृत है, जिसमे शिकायतकर्ता से 97000/- की धोखाधड़ी की गयी है । 
पुलिस टीम द्वारा अथक मेहनत व लगन से देश भर में धनराशि दोगुना करने से सम्बन्धित संचालित ऐप के नाम पर लोगो का विश्वास जीतकर उनकी मेहनत की कमाई की ठगी करने वाले संगठित गिरोह के सदस्य पवन कुमार पाण्डेय पुत्र बनवारी पाण्डये निवासी सी-7 एचआईजी फ्लैट, ग्रीन व्यू अपार्डमेंट सैक्टर 99 नोयडा उ0प्र0 को दिनांक 07-06-2021 को नोयडा उ0प्र0 से गिरफ्तार किया गया। अभियोग में अभियुक्त के विरुद्ध धारा 3/21, 4/22 Banning of unregulated deposit Scheme act 2019 का अपराध कारित करना भी पाया गया।
अभियोग में तकनीकी साक्ष्य एकत्रित किये गये तो पाया कि आरोपियो द्वारा धनराशि के लेनदेन हेतु अधिकांशतः RAZORPAY Wallet/Gateway का प्रयोग किया गया । उक्त सम्बन्ध में टीम द्वारा RAZORPAY Gateway से सम्पर्क कर करोड़ो की धोखाधड़ी में RAZORPAY Gateway का उपयोग होना तथा आरोपियों के सम्बन्ध में जानकारी उपलब्ध कराने की अपेक्षा की गयी । बैंक/मर्चेन्ट/गेटवे एवं अन्य सम्बन्धित कम्पनियों से प्राप्त विवरण का विश्लेषण किया गया तो वर्तमान तक 360 करोड की धोखाधड़ी प्रकाश मे आयी तथा और अधिक धनराशि की धोखाधड़ी सम्भावित है । इसी क्रम में RAZORPAY के legal Head के द्वारा दिनांक *01-06-2021 को साईबर क्राईम पुलिस स्टेशन बैंगलोर* मे पावर बैंक से सम्बन्धित कम्पनियों 1- H&S Ventures Inc, 2- Clifford Ventures, 3- Lorfly Technology Pvt. Ltd., 4-Biosoft Ventures Inc, 5-Maojaza Technology Pvt. Ltd. 6- Divyam Infracon Pvt. Ltd., 7- 360TEQ Software Pvt. Ltd, 8-Centrono Solution Pvt. Ltd, 9- Purplehues Sunny Communication Pvt. Ltd, 10- Sachin Mapleleaf Communication (OPC) के निदेशको सहित 13 व्यक्तियो के विरुद्ध अभियोग पंजीकृत कराया गया। बैंगलोर पुलिस द्वारा प्रकरण में 06 आरोपियो की गिरफ्तारी की गयी है । गिरफ्तारी अभियुक्तो मे से 03 अभियुक्त 1- नागाभूषण, 2-सुकन्या, 3- तिब्बत मूल के पेमा वांगमो साईबर थाने पर पंजीकृत अभियोगो में भी सम्मिलित है, जिनको शीघ्र ही रिमाण्ड पर उत्तराखण्ड लाया जायेगा ।
पावर बैंक नामक एप के माध्यम से ठगी के सम्बन्ध में साईबर सैल दिल्ली द्वारा भी दिनांक 29-5-2021 को अभियोग पंजीकृत किया गया । दिल्ली पुलिस द्वारा प्रकरण में सम्बन्धित कम्पनियों के निदेशक एवं कम्पनी के CA अविक केडिया एवं रौनक सहित 11 आरोपियो की गिरफ्तारी की गयी है, अभियुक्त अविक केडिया साईबर थाने पर पंजीकृत अभियोग में भी सम्मिलित है, जिसको शीघ्र रिमाण्ड पर उत्तराखण्ड लाया जायेगा ।

Share this story