कर्मकार कल्याण बोर्ड के घोटाले की सीबीआई जांच की मांग

crime

Utkarshexpress.com विकासनगर। जन संघर्ष मोर्चा के जिला मीडिया प्रभारी प्रवीण शर्मा पिन्नी ने कहा कि श्रम मंत्री हरक सिंह रावत एवं कर्मकार कल्याण बोर्ड की सचिव श्रीमती दमयंती रावत की जुगलबंदी ने श्रमिकों के नाम पर करोड़ों रुपए की  खरीद की, जिसके ई-वे बिल व किस वाहन से सामान पहुंचा, उसके कोई दस्तावेज विभाग के पास नहीं हैं। मोर्चा द्वारा सबसे पहले इस जुगलबंदी एवं महा घोटाले का पर्दाफाश किया गया था।   गौर हो कि हाल ही में जन संघर्ष मोर्चा के अध्यक्ष रघुनाथ सिंह नेगी ने राज्यपाल को पत्र प्रेषित कर करोड़ों रुपए की खरीद एवं उसके वितरण की सीबीआई जांच की मांग की, जिससे ये भ्रष्ट-दागी जेल की सलाखों के पीछे हों।   शर्मा ने कहा कि श्रमिकों को विभाग द्वारा घटिया किस्म की साइकिलंे, सोलर लालटेन, टूल किट्स, वेल्डिंग मशीन, सिलाई मशीन, छाते, खाद्यान्न किट्स आदि बांटे गए, जिसकी गुणवत्ता इतनी खराब थी कि श्रमिकों ने ओने-पौने दामों में बाजार में कबाड़ के भाव उक्त सामान को नीलाम कर दिया। इसके अतिरिक्त कर्मकार बोर्ड द्वारा न जाने कितने ही घोटालों को अंजाम दिया गया, जोकि सीधे-सीधे श्रमिकों के हक पर डाका है। मोर्चा ने कहा कि अगर शीघ्र ही राजभवन द्वारा सीबीआई जांच कराने की दिशा में कार्रवाई नहीं की गई तो मोर्चा उच्च न्यायालय की शरण लेगा।   

Share this story