अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की हत्या हुई : साक्षी महाराज

crime

Utkarshexpress.com हरिद्वार। यूपी के उन्नाव से भाजपा सांसद साक्षी महाराज ने दावा किया कि अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष श्रीमहंत नरेंद्र गिरि की हत्या की गई है। साक्षी महाराज ने कहा कि नरेंद्र गिरि बेहद बहादुर थे और आत्महत्या कर नहीं सकते। घटनास्थल पर मिले सुसाइड नोट को उन्होंने फर्जी करार दिया। भाजपा सांसद ने संत की सुरक्षा में तैनात सुरक्षाकर्मियों की भूमिका पर सवाल खड़े करते हुए सीबीआई जांच में दूध का दूध, पानी का पानी साफ होने की बात कही। रविवार को संत शिरोमणि वामदेव महाराज की प्रतिमा के अनावरण कार्यक्रम में भाजपा सांसद साक्षी महाराज ने कहा कि यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने सीबीआई जांच की संस्तुति कर बेहद अच्छा कार्य किया है, जल्द ही संतों का एक प्रतिनिधिमंडल सीबीआई निदेशक से भी मुलाकात करेगा।उन्होंने कहा कि उनके परममित्र आत्महत्या के बारे में सोच भी नहीं सकते थे। उन्होंने नरेंद्र गिरि की हत्या का दावा करते हुए जल्द से जल्द हत्यारों को पकड़ने की मांग उठाई। उन्होंने कहा कि किसी पर आरोप लगाना उचित नहीं है। सीबीआई की जांच में महंत की मौत की हकीकत सामने आ जाएगी।प्रॉपर्टी डीलरों की भूमिका को लेकर सांसद बोले कि वह किसी पर उंगली नहीं खड़ी कर रहे हैं, सीबीआई जांच में सब साफ हो जाएगा। बोले कि उनके सुनने में आया था कि महंत नरेंद्र गिरि ने 25 करोड़ की भूमि बेची है, हकीकत मुझे पता नहीं है। कहा कि सुसाइड नोट बनाया गया है, हत्या को आत्महत्या दर्शाने की पूरी प्लानिंग की गई है। संतों के प्रॉपर्टी डीलिंग के धंधे में संलिप्त होने की बात पर कहा कि संतों पर इस प्रकार के आरोप लगाना सही नहीं है। कहा कि सुरक्षाकर्मियों का आखिर क्या दायित्व होता है, यह भी एक बड़ा सवाल है। आखिर महंत की सुरक्षा में तैनात सुरक्षाकर्मी उस वक्त कहां थे, वह क्या कर रहे थे, इसकी भी जांच होनी चाहिए।

Share this story