बडौदा से प्रकाशित नारी अस्मिता पत्रिका के 109  वें अंक का हुआ लोकार्पण 

pic

utkarshexpress.com, बड़ौदा - डॉ रचना निगम जी द्वारा, प्रकाशित त्रैमासिक पत्रिका 'नारी अस्मिता' के 109 -110 वें (जून-नवंबर 2021) संयुक्तांक का लोकार्पण बड़ौदा में हुआ।  आयोजन के मुख्य अतिथि डॉक्टर अकेला भाई  द्वारा पत्रिका का लोकार्पण हुआ । यह पत्रिका विगत 28 वर्षों से सतत प्रकाशित हो रही है। इस कार्यकम में व्यक्तिगत और वर्चुअल (गूगल मीट द्वारा ऑनलाइन) भारत और विदेश में रह रहे साहित्यकारों ने अपनी उपस्थिति दर्ज करायी । कार्यक्रम का संचालन लघुकथाकारा रूपल उपाध्याय ने किया , तकनीकी सहयोग आशीष दलाल ने दिया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि रहे पूर्वोत्तर हिंदी अकादमी, मेघालय के सचिव डॉ अकेलाभाई। विशिष्ठ अतिथि रहे स्वाति वेडेकर  एवम रेखा चटर्जी ।
उसके बाद डॉ रचना ने सभी को शिक्षक दिवस की बधाई दी और पत्रिका के 28 वर्षों के सफर पर प्रकाश डाला । विस्तृत चर्चा की शुरुआत मुख्य अतिथि डॉ अकेलाभाई के उद्बोधन से हुई। उन्होंने डॉ रचना  की जीवटता को नमन करते हुए कहा यह पत्रिका मील के पत्थर के समान है। उन्होंने बताया कि इस पत्रिका के कारण पूर्वोत्तर राज्यों में भी बहुत सी महिलाएँ लेखन में उतरी है।
आयोजन में अलवर (राजस्थान) से सुश्री अंजना अनिल ,  छत्तीसगढ़ की लेखिका सुश्री शैल चंद्रा , प्रयागराज से डॉ सविता श्रीवास्तव , बडौदा की लेखिका डॉ रानु मुखर्जी,  नपैड वूमेन के नाम से विख्यात सुश्री स्वाति वेडेकर ,  लॉयन्स क्लब की राष्ट्रीय सचिव सुश्री रेखा चटर्जी, दुबई से सुश्री स्नेहा देव , फरीदाबाद से जुड़ी डॉ दुर्गा सिन्हा 'उदार' , मुंबई से अलका अग्रवाल , नेपाल से जुड़ी सुश्री इंदु टोडी आदि सभी साहित्यकारों ने इस आयोजन को  बहुत बड़ा और खास बताया। आगंतुकों ने कहा कि उन्हें इस कार्यक्रम के वक्ताओं  से बहुत कुछ सीखने को मिला है। 
अंत में पत्रिका की प्रकाशक डॉ. रचना  एवम पत्रिका की समीक्षक तूलिका श्री ने आयोजन में उपस्थित सभी साहित्यकारों का आभार प्रकट किया ।

Share this story