प्यार में - अनिरुद्ध कुमार

pic

जिंदगी लगती दिवानी प्यार में,
आदमी कहता कहानी प्यार मे। 

प्यार में डूबा हुआ हर शख्स है,
बात भी होती जुबानी प्यार में।

प्यार पर करता भरोसा ये जहाँ,
भूल जाता जिंदगानी प्यार में।

देखते दिलदार दिल होता फ़ना,
कब रुका है ये जवानी प्यार में।

प्यार पर कुर्बान होने का चलन,
मांगते दिलकश निशानी प्यार में।

प्यार में है आरजू दिल जोड़ता,
याद कर बातें पुरानी प्यार में।

प्यार खिदमतगार होता है गुमां,
भूल जाते गम तुफानी प्यार में।

प्यार रहमत है खुदा की जान ले,
राजदारी भी निभानी प्यार में।

प्यार है अनमोल'अनि' होता फिदा,
रुत लगे कितनी सुहानी प्यार में।

- अनिरुद्ध कुमार सिंह, धनबाद, झारखंड
 

Share this story