काली कमाई = रूबी गुप्ता

काली कमाई = रूबी गुप्ता

काली पटरी किये पढ़ाई। 
पोथी पढ़कर ज्ञान बढ़ाई। 

सत्य अहिंसा ही जीवन है।
गुरूवर ने हमें खुब सिखाई। 

जीवन यापन के साधन है, 
रूपया पैसा सुन लो भाई। 

बेईमानी घुसखोरी से ,
जीभर के जो किये कमाई।

साथ न जाता धन दौलत ये,
साथ न जाते हैं लोग लुगाई। 

क्यो भरते हो पाप से थाली, 
पूछेगा उपर बनमाली।

अरूण बनो बिखराओं लाली।
बन्द करो अब तृष्णा काली।
= रूबी गुप्ता दुदही कुशीनगर उत्तर प्रदेश
 

Share this story