कोरोना बीमारी या साजिश = अंजलि रोहिला 

कोरोना बीमारी या साजिश = अंजलि रोहिला

देश मे एक बार फिर कोरोना ने दस्तक दी है, कुछ जगह फिर से लॉक डाउन लग गया है, ओर कुछ जगह लगाने की तैयारी है, लेकिन कुछ जगह ऐसी है जहां कोरोना नही जायेगा जैसे कि पश्चिम बंगाल, क्योकि वहां अभी चुनाव का माहौल है, वहां सब राजनैतिक पार्टियां अपनी अपनी रैली कर रही है, इसलिए सब पार्टी के नेताओ ने कोरोना को रोका हुआ है कि वहाँ कितनी भी भीड़ हो वहां मत आना, लेकिन ओर जगह बाजार में, मंदिर में कही भी कोरोना आ सकता है, कमाल की बात है सरकार की, आम जनता को बिना दिमाग का समझ कर कितना बड़ा खेल उनके साथ खेला जा रहा है, सरकार के हिसाब से कोरोना आएगा, ओर सरकार के हिसाब से कोरोना जायेगा, आम आदमी की रोजी रोटी खाना कमाने को परेशान कर दिया लेकिन अगर सरकार को कोई रैली करनी है हरसंभव वो तो होगी, रैली में कोई भी व्यक्ति मास्क लगाए या ना लगाए कोई फर्क नही, लेकिन बाजार में जाते हुए अकेले आदमी को भी मास्क लगाना जरूरी है, कोरोना बीमारी एक रहस्यमय बीमारी बन गयी है, ये बीमारी है भी या नही...।
वही दूसरी ओर कोरोना से मरने वाले लोगो की संख्या में रोज हज़ारो में आंकड़ा बढ़ता हुआ दिखाया जाता है लेकिन इसमे भी जो लोग कोरोना से मर रहे है वो हॉस्पिटल में ही क्यो मर रहे है, आज तक कोई भी व्यक्ति कोरोना से अपने घर मे या सड़क पर नही मरा, जिन भी लोगो की मृत्यु हुई वो हॉस्पिटल से ही हुई, ओर फिर उसकी बॉडी को भी देखने दिया नही जाता...ऐसा क्यो, कोई बड़ा खेल तो नही खेला जा रहा भोली भाली जनता के साथ, इसलिए…ये कोरोना बीमारी है या कोई साजिश।      = अंजलि रोहिला, अम्बेहटा पीर (सहारनपुर)

Share this story