डॉ सत्या होप टॉप द्वारा अनुज्ञा सम्मान कार्यक्रम का आयोजन

डॉ सत्या होप टॉप द्वारा अनुज्ञा सम्मान कार्यक्रम का आयोजन

Utkarshexpress.com देहरादून। अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष में डॉ सत्या होप टॉप के द्वारा अनुज्ञा सम्मान कार्यक्रम का आयोजन किया गया. विदित हो कि अपने जीवन में दूसरी पारी की नई शुरुआत करने वाली महिलाओं को अनुज्ञा की सदस्यता दी जाती है. समाज में नारी शक्ति की समझ को और अधिक बल प्रदान करने के लिए होप टॉक मंच के द्वारा अनेकों कार्यक्रम आयोजित किए जाते रहे हैं. आज सम्मान कार्यक्रम के अंतर्गत सत्य नारी शक्ति गोष्ठी का आयोजन किया गया,  जिसका प्रसारण सोशल मीडिया के माध्यम से फेसबुक पटल पर हुआ. समाज में महिला की आवाज को  नई ऊंचाई देने के लिए सोशल मीडिया में सीधी भागीदारी एक अभूतपूर्व माध्यम बना है नारी सशक्तिकरण का. कार्यक्रम में आदरणीया सुदर्शन जी की अध्यक्षता में उमा शर्मा, झरना माथुर, सुभाषिनी गुप्ता, क्षमा द्विवेदी तथा कात्यायनी पांडेय ने पटल पर अपनी बातों को रखा. मुख्य रूप से समाज में बहू और बेटी में अंतर, बेटे और बेटी में अंतर, बेटी को विशिष्ट का दर्जा देने में कमजोर बना कर रखने का  संस्कार तथा लड़कों के चरित्र के निर्माण में माताओं और बहनों की भूमिका को विशेष रूप से समझाया गया. कार्य का बोझ समान रूप परिवार में लड़कों पर भी डालना चाहिए तथा  दो कुलों की मान की रक्षा का दायित्व केवल लड़कियों का नहीं बल्कि पुत्रों का भी होना चाहिए, ऐसे ज्वलंत विषयों पर प्रकाश डाला गया. कार्यक्रम में काव्य के माध्यम से सभी कवियों ने अपनी बात को पुरजोर तरीके से रखा कार्यक्रम का संचालन डॉ अरुणा पाठक जी ने किया.कार्यक्रम में होप टॉक के संस्थापक डॉ सत्य प्रकाश जी को विशिष्ट अतिथि के रूप में सभी को जोड़े रखने के लिए विशेष रूप से धन्यवाद दिया गया. शिक्षा की भिक्षा कार्यक्रम की सफलता हेतु आने वाले 14 से 28 मार्च तक होलिकोत्सव कार्यक्रम और अप्रैल में रामनवमी विशेष "आओ अपने राम गढ़े हम" की अपार सफलता के लिए शुभकामनाये दी गई. समाज में चरित्र निर्माण के लिए इस तरह की कार्यशालाओं का आयोजन नारी सशक्तिकरण का माध्यम भी बनेगा, इस बात को प्रमुखता से रखा गया.

Share this story