जीवन - जया भराडे बडोदकर

pic

जीवन सफल हो तभी,
जब एड्जसटमेंट,
और कोम्प्रोमाइज़ के  
समीकरण जुड़े।
अन्यथा गहन
संकट मे पड़े,
पल-पल आनंद लेने को
दु:ख के पहाड़ चढ़े,
सहनशील मन को
और कृपा प्रभु के,
विश्वास मे सदा रहे
आते हैं सभी पे
संकटों से घिरे बादल,
धीरज रखने से 
छट जाते है ये पल में,
खुशियों के खिलते हैं फूल। 
फिर कर्तव्य पथ पर
चलने से निराश न हो कभी,
वक्त का इंतजार 
जरूर करे,
सब्र का फल हमेशा
बड़ी मुश्किलों से
गुजरता है, 
मिलता जरूर है। 
- जया भराडे बडोदकर
नवी मुंबई, महाराष्ट्र

Share this story