अभी जारी है - झरना माथुर 

pic

जो हमने चाहा वो कभी मिला नही,
मगर चाहतो का दौर अभी जारी है।

आगे बढ़े पर बार-बार गिरते गये,
मंजिल की जदोजेहद अभी जारी है।

रिश्तों की खातिर खुद को ही मिटा दिया,
समझौता-ए-हालात अभी जारी है।

मेरे जज्बातो को जो समझ पाता,
वो फरिश्ता ढूँढना अभी जारी है।

माना अब उम्र भी सांझ के किनारे है,
पर खुशियों से मुलाकात अभी जारी है।
- झरना माथुर, देहरादून (उत्तराखंड)
 

Share this story