मौसम मोहब्बत का - झरना माथुर 

pic

जीवन के मौसम में एक मौसम मोहब्बत का,
आज फिर दूंढ्ते हैं वो पल जो राज है खुशियों का।

उनकी बाहों में खुशबू उनके प्यार की,
हमारे दिल को सुकून उनकी चाहत का।

सुबह भी ताजगी से भरी हुई होती थी,
हर शाम को होता था नशा मिलने का।

बड़ी बेसब्री से नयन देखते थे राहें उनकी,
हवा में खुशबू संदेश देती थी उनके आने का।

हर मौसम बहुत ही खुशनुमा सा लगता था,
चेहरे पे हमारे नूर था उनके इश्क़ का।

मोहब्बत का मौसम बड़ा हसीन जिन्दगी का,
जिसके जीवन में आये करिश्मा कुदरत का।
- झरना माथुर , देहरादून 
 

Share this story