अनदेखे अनसुने = राजीव डोगरा 'विमल'

pic

कुछ बातें अनकही हैं, 
कुछ जज्बात अनसुने है,
कुछ चेहरे अनदेखे हैं,
कुछ ख्वाब अनसुने है,
कुछ रिश्ते अनदेखे हैं,
कुछ हसरतें अनकही है,
कुछ पहलू अनसुने है,
कुछ कहानियां अनदेखी है,
कुछ अंदाज अनसुने है,
कुछ लोग अनदेखे हैं,
कुछ गीत अनसुने है,
कुछ रास्ते अनदेखे हैं,
फिर भी न जाने क्यूँ ,
उत्सुक सा रहता है मन। 
= राजीव डोगरा 'विमल'
ठाकुरद्वारा, कांगड़ा, हिमाचल प्रदेश

Share this story