कोरोना से मृत पत्रकारों को मध्य प्रदेश सरकार देगी पांच लाख रूपये: मुख्यमंत्री शिवराज

कोरोना से मृत पत्रकारों को मध्य प्रदेश सरकार देगी पांच लाख रूपये: मुख्यमंत्री शिवराज

Utkarshexpress.com भोपाल | मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज उनसे  भेंट करने गए पत्रकारों के प्रतिनिधिमंडल को कहा कि कोरोना से मृत होने वाले पत्रकारों के परिजनों को तत्काल 5 लाख रूपये की सहायता प्रदान की जाएगी| स्वास्थ्यकर्मी पुलिसकर्मी एवं अन्य लोगों की तरह ही पत्रकारों को भी फ्रंट लाइन वर्कर के रूप में घोषित किए जाने की मांग पर उन्होंने कहा कि जल्द ही इस पर हम निर्णय लेंगे|उन्होंने पत्रकारों के आग्रह पर संचालक जनसंपर्क आशुतोष प्रताप सिंह के समन्वय में एक नोडल अधिकारी नियुक्त किया है जो पत्रकारों के स्वास्थ संबंधी मामलों का त्वरित निराकरण करेंगे|
इस अवसर पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बताया की पूरी टीम की मेहनत से करोना पर काफी हद तक नियंत्रण पाया जा सका है| अब रिकवरी रेट लगातार बढ़ रहा है। हमने प्रदेश भर के अस्पतालों में ऑक्सीजन की व्यवस्था पर्याप्त कर दी टेस्ट बढ़ा दिए गए है| हमने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, रेल मंत्री पीयूष गोयल और भारत के गृहमंत्री अमित शाह से चर्चा कर प्रदेश की स्थिति से अवगत कराया है। साथ ही हमने केंद्र से जो मदद मांगी थी वह भी पूर्ण हुई है। हमने प्लेन से दवाई मंगाई और उन्हें प्रदेश के कोने कोने तक पहुंचाने की व्यवस्था की है|
मुख्यमंत्री ने पत्रकार साथियों से प्रदेश में सकारात्मक माहौल बनाने का आग्रह किया। उन्होंने कहा इतनी बड़ी महामारी से निपटने में कुछ अव्यवस्थायें होती है लेकिन व्यवस्था बनाने में पूरी टीम रात दिन एक कर रही है| हमे इस नज़रिये से देखना चाहिए। लोगों मे भय का माहौल निर्मित है, उसे दूर करने की आवश्यकता है| लोगों में कोरोना को लेकर भारी भय का माहौल है। मीडिया के साथी समाज में जागरूकता का माहौल निर्मित करें और लोगों को इस बात से अवगत कराएं कि समय रहते अगर सही इलाज हो गया तो कोरोना से कोई भय नहीं है| प्रतिनिधिमंडल की मांग पर मुख्यमंत्री ने कहा कि मण्डला में जल्द ही कोरेनटाइन सेंटर बढ़ाया जाएगा। साथ ही टेस्ट की व्यवस्था भी बेहतर की जाएगी| मण्डला में कोरोना से मृत पत्रकार साथियों के परिजनों को भी 5 लाख की राशि दी जाएगी।

Share this story