किसानों के पक्ष में सरकार का विरोध करने पर वरूण, मेनका, विनय कटियार वीरेंद्र सिंह राष्ट्रीय कार्यकारिणी से बाहर

politics

Utkarshexpress.com Delhi - किसानों के पक्ष में सरकार का विरोध करना वरूण गांधी को महंगा पड़ गया हैं। वरूण गांधी को जेपी नड्डा की टीम यानी कि राष्टीय कार्यकारिणी से बाहर कर दिया गया है। उनके साथ उनकी मां एवं पूर्व केन्द्रिय मंत्री मेनका गांधी सहित विनय कटियार व चौधरी वीरेंद्र सिंह को भी कार्यकारिणी से बाहर का रास्ता दिखाया गया है।
बता दे कि पिछले कुछ समय से वरूण गांधी के स्वर अपनी ही सरकार के विरोध में जा रहे थे। आज सुबह उन्हांने ट्वीट कर किसानो पर हुए हमले के आरोपियो को दंड देने का समर्थन किया था। उनके इस ट्वीट के आने के तत्काल बाद उन्हें राष्ट्रीय कार्यकारिणी से बाहर का रास्ता दिखा गया है। इधर बीजेपी ने 80 सदस्यों की राष्ट्रीय कार्यकारिणी का ऐलान किया है। इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, लाल कृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, केंद्रीय मंत्री अमित शाह और राजनाथ सिंह भी शामिल हैं। इनके अलावा मिथुन चक्रवर्ती को भी नई राष्ट्रीय कार्यकारिणी जगह मिली है।

Share this story