दून में डेंगू के 18 मरीज हुए चिन्हित

uk

Utkarshexpress.com देहरादून। मुख्य विकास अधिकारी नितिका खण्डेलवाल द्वारा वीडियो कान्फ्रेंसिग के माध्यम से जनपद में कोविड-19 की रोकथाम व डेंगू मलेरिया की स्थिति पर समीक्षा बैठक करते हुए संबंधित विभागों के अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। मुख्य विकास अधिकारी ने जनपद में डेंगू की स्थिति के बारे में जानकारी लेने पर डेंगू मलेरिया अधिकारी डॉ0 सुभाष कुमार जोशी ने अवगत कराया है कि जनपद में अभी तक डेंगू के 18 मरीज चिह्नित हुए है। जिनमें 15 मरीज इन्द्रानगर-सीमाद्वार-बसंतविहार, 01 डालनवाला, 01 शास्त्रीनगर(रिस्पना पुल, हरिद्वार रोड़) एवं 01 सेलाकुई में चिह्नित हुए है। उन्होंने बताया है कि जिन क्षेत्रों में डेंगू के मरीज पाए गए है त्वरित निरोधात्मक कार्यवाही की जा रही है। मुख्य विकास अधिकारी ने सभी एमओआईसी को संबंधित क्षेत्र के नगर निगम एवं नगर निकाय के अधीशासी अधिकारियों से समन्वय करते हुए डेंगू मलेरिया अभियान चलाते हुए निरंतर फागिंग करें।
उन्होंने कहा कि डेंगू संक्रमण की रोकथाम के लिए 31 अक्टूबर तक बहुत महत्वपूर्ण है इसके लिए नगर निगम एवं संबंधित विभागों के अधिकारियों को विशेष रूप से सर्तक रहते हुए डेंगू के विरूद्ध अभियान चलाये जाने तथा जनमानस को इसके प्रति जागरूक करने की आवश्यकता है। मुख्य विकास अधिकारी ने कोविड-19 संक्रमण की समीक्षा करते हुए जनपद में सैम्पलिंग बढ़ायी जाने के साथ ही मुख्य चिकित्सा अधिकारी को सभी प्राइमरी सेन्टर पर एन्टीजन किट उपलब्ध कराये जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सभी चिकित्सालयों के साथ ही रेलवे स्टेशन, बस स्टेण्ड, एयरपोर्ट एवं जनपद की सीमा चौक पोस्ट पर निरंतर प्रभावी सैम्पलिंग करवाई जाये। उन्होंने सभी एमओआईसी को निर्देश दिए कि उनके क्षेत्र में जहां पर टीकाकरण की दूसरी डोज लगनी है ऐसे स्थानों पर टीम भेजकर टीकाकरण करवायें। उन्होंने सभी एमओआईसी को माइक्रो न्यूट्रीशियन तत्काल वितरण कराते हुए रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ0 मनोज कुमार उप्ररेती, डॉ0 राजीव दीक्षित, डॉ0 सुभाष कुमार जोशी सहित समस्त एमओआईसी सहित संबंधित अधिकारी वीडियोकान्फेंसिग के माध्यम से जुड़े रहे।

Share this story