डीएम की बैठक में मुख्य शिक्षा अधिकारी, बीआरओ अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस 

uk

Utkarshexpress.com गोपेश्वर। जिला बाल सलाहकार बोर्ड की बैठक में शामिल न होने पर जिलाधिकारी हिमांशु खुराना ने नाराजगी जताते हुए मुख्य शिक्षा अधिकारी ललित मोहन चमोला और सीमा सड़क संगठन के अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी किए हैं। डीएम ने बाल संरक्षण प्रणाली को मजबूत बनाने के निर्देश दिए। बाल अधिकारों के प्रति लोगों को संवेदनशील बनाकर बाल संरक्षण प्रणाली को मजबूत करने और बाल सुरक्षा कार्यों को बेहतर ढंग से क्रियान्वयन के निर्देश दिए गए। बोर्ड के सदस्यों को सार्वजनिक स्थलों जैसे शिक्षण संस्थाओं, आंगनबाड़ी केंद्रों, कार्यास्थलों, व्यावसायिक वाहनों, टैक्सी यूनियन कार्यालय, टैक्सी स्टैंड आदि जगह पर चाइल्ड हेल्प लाइन नंबर १०९८ चश्पा करने के निर्देश दिए। कोविड बचाव के तहत वितरित की जा रही माइक्रो न्यूट्रिएंटस किट के माध्यम से भी हेल्प लाइन नंबर के प्रचार प्रसार के निर्देश दिए। हिमाद समिति की जिला समन्वयक प्रभा रावत ने बताया कि चाइल्ड लाइन सेवा के माध्यम से इस साल जनवरी से अब तक २५६ मामले चिह्नित किए गए। जिसमें चिकित्सा के १८, बाल श्रम के ४२, भीख मांगने वाले १०, योन शोषण उत्पीड़न और दुर्व्यवहार के छह, बाल विवाह का एक, स्पांसरशिप के १७३, लापता के दो और नशा खोरी के चार मामले शमिल हैं। साथ ही सीएम वात्सल्य योजना के लिए ८३ बच्चों को चिह्नित किया गया।

Share this story