डीएसपी को कुचलने वाला गिरफ्तार

crime

Utkarshexpress.com नूंह (हरियाणा)- हरियाणा के नूंह जिले में खनन माफिया से जुड़े लोगों ने डीएसपी के ऊपर डंपर चढ़ा दिया था।  जिसमें डीएसपी सुरेंद्र सिंह विश्नोई की मौके पर ही मौत हो गई है।   वही, सूत्रों के मुताबिक मंगलवार सुबह 11.50am बजे की घटना गुरुग्राम से सटे नूंह जिला के तावडू थाना क्षेत्र के गांव पचगांव की है। वही इस  गांव से सटी अरावली पहाड़ी पर अवैध रूप से खनन किए जाने की सूचना डीएसपी (तावडू) सुरेंद्र सिंह बिश्नोई को मिली थी, जिसके बाद मंगलवार सुबह 11 बजे वह अपनी टीम के साथ पहुंचे। हरियाणा  पुलिस टीम को देख पहाड़ी के पास खड़े डंपर लेकर उनके चालक और खनन में लगे लोग भागने लगे। वाहन रोकने के लिए डीएसपी आगे आए तो डंपर चालक ने उनके ऊपर  इसी बीच माफियाओं ने DSP पर पत्थरों से भरा डंपर चढ़ा दिया  और भाग गया। डंपर की टक्कर से वह नीचे गिर गए और डंपर उनको रौंदता हुआ ऊपर से निकल गया। सुरेंद्र सिंह ने मौके पर ही दम तोड़ दिया।
 इस दौरान  हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने इस मामले में दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का भरोसा दिया है. खट्टर ने ट्वीट किया, ‘‘तावडू (नूंह) के डीएसपी सुरेंद्र सिंह जी की हत्या के मामले में कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने के आदेश दे दिए गए हैं, एक भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा.’’सूत्रों के हवाले मिली ताजा जानकारी के मुताबिक  20 जुलाई, बुद्धवार को हरियाणा के नूंह में DSP सुरेन्द्र सिंह की हत्या मामले में ताबड़तोड़ कार्रवाई करते हरियाणा पुलिस ने 30 घंटे बाद डंपर के चालक मित्तर को गिरफ्तार कर लिया है। अपने डंपर से DSP को कुचलने के बाद वह पुलिस की नाकाबंदी को धत्ता बताते हुए राजस्थान के भरतपुर पहुंच कर वहां छिप गया था।
इस दौरान  हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने ट्वीट कर उसकी गिरफ्तारी की जानकारी दी। इस मामले में यह दूसरी गिरफ्तारी है। इससे पहले पुलिस ने क्लीनर इकरार को गिरफ्तार किया था। इकरार बुधवार को कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट ने उसे 5 दिन के पुलिस रिमांड पर भेजा।वही इस  घटना की सूचना मिलते ही एसपी (नूंह) वरुण सिंगला मौके पर पहुंचे।  डीएसपी मूल रूप से हिसार के रहने वाले थे। कहा जा रहा है कि, एक सूचना के आधार पर डीएसपी सुरेंद्र खनन रोकने के लिए गए थे।   जब अवैध पत्थर से भरे ट्रक को रोकने की कोशिश की तो डंपर ड्राइवर ने उनके ऊपर ही डंपर चढ़ा दिया।  घटनास्थल पर नूंह के एसपी और आईजी मौजूद हैं. आरोपियों को पकड़ने के लिए सर्च ऑपरेशन जारी है। प्राप्त जानकारी के अनुसार हरियाणा पुलिस में DSP सुरेन्द्र सिंह की भर्ती 1994 में सहायक उपनिरीक्षक के पद पर हुई थी और वह कुछ महीनों में ही सेवानिवृत्त होने वाले थे. मूल रूप से हिसार जिले के सारंगपुर गांव के निवासी सिंह कुरुक्षेत्र में अपने परिवार के साथ रह रहे थे।उधर डीएसपी सुरेंद्र सिंह का दोपहर बाद नूंह अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाया गया। उनकी बॉडी हिसार स्थित उनके पैतृक गांव सारंगपुर ले जाई जाएगी। डीएसपी सुरेंद्र सिंह का अंतिम संस्कार मंगलवार को उनके पैतृक गांव सारंगपुर में ही किया जाएगा।

Share this story