बधाई - मधु शुक्ला

pic

सुगम हो गया भेजना अब बधाई,

हमें राह नव फेसबुक ने दिखाई।

मिलन की जरूरत नहीं रह गई अब,

खुशी व्यक्त कर दो यही रीति आई।

बधाई अगर भेजना हो किसी को,

मनोहर चुनो चित्र भेजो मिठाई।

नहीं भाव दिखते करें शब्द जादू,

न खर्चा लगे रीति सुंदर बनाई।

अगर पात्र संदेश से हो रहा खुश,

नहीं नव चलन में दिखे कुछ बुराई।

.- मधु शुक्ला, सतना, मध्यप्रदेश

Share this story