धरा संरक्षण दिवस - निहरिका झा 

pic

दिवस मनाएँ आज,
धरा का लेकर यह संकल्प
कुदरत के संसाधन को 
नहीं करें हम व्यर्थ।।
एक बीज का रोपण कर
समृद्ध  करें  प्रकृति
एक नीड़ में इतनी शक्ति
बचा ले कईयों जीवन।
वायु , जल को शुद्ध रखें हम
करें नहीं प्रदूषण।।
संसाधन की कद्र करें
जो बचा रही हैं  जीवन।
बिना वजह न जल को खर्चें
न खर्चें खनिजों को,
हरी भरी हो धरा हमारी,
साध यही हो मन में।
पुलकित धरती मधुरिम वायु
जब प्रसन्न दिख जाए।
सच्चे अर्थों में तब जानो
"धरा दिवस " मन जाए।
निहारिका झा, खैरागढ़ राज.(36 गढ़)

Share this story