नव वर्ष - श्याम कुंवर भारती

pic

आया अब नया साल खुश मन कीजिए।
मिली जूली स्वागत सब नया साल किजिए।

अधूरा रहा जो भी काम पूरा उसे करेंगे।
जितना किया पिछले साल आगे और करेंगे।
संकल्प और इच्छा शक्ति मन में भर लीजिए।
मिली जूली स्वागत सब नया साल किजिए।

देश करे उन्नती प्रभु प्रार्थना हम करेंगे।
सीमा की रक्षा खातिर जीये और मरेंगे।
बने देश महान दिल से दुआ खुब किजिए।
मिली जूली स्वागत सब नया साल किजिए।

भरा रहे भंडार घर में अन्न - धन सबके।
खुशियों से घर सबका मह-मह महके।
करना है कुछ विशेष कार्य प्रण अब कीजिए।
मिली जूली स्वागत सब नया साल किजिए।
- श्याम कुंवर भारती, बोकारो, झारखण्ड
 

Share this story