दोषी प्रधानाचार्यों का तत्काल निलम्बन नही करने पर किया जायेगा आन्दोलन - धर्मेंद्र गहलोत    

pic

utkarshexpress.com सिरोही(राजस्थान) - राजस्थान शिक्षक संघ (प्रगतिशील) के प्रदेश मुख्य महामंत्री धर्मेन्द्र गहलोत के नेतृत्व में प्रतिनिधि मण्डल ने मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी सुभाष महलावत से वार्ता कर प्रधानाचार्य मूंगथला व खडात द्वारा उच्च अधिकारियों के आदेश की निरन्तर की जा रही अवहेलना पर निलम्बन की कार्यवाही नही होने पर आन्दोलन की चेतावनी दी हैं।
संगठन के मीडिया प्रभारी गुरुदीन वर्मा के अनुसार संघ (प्रगतिशील) के जिला मंत्री इनामुल हक कुरैशी ने बताया है कि सीडीईओ महलावत के समक्ष प्रदेश महामंत्री गहलोत ने कडी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि शासन के आदेश की पालना नही होने से शिक्षा प्रशासन में संवेदनहीनता पनप रही हैं। जिला कलेक्टर एवं अध्यक्ष सतर्कता समिति द्वारा पालना सुनिश्चित करने के आदेश की भी धज्जिया उडाई जा रही हैं। अनुसूचित पीडित दम्पति सत्यनारायण बैरवा एवं सविता बैरवा को पिछले 3 वर्ष से परेशान किया जा रहा हैं और नियुक्ति अधिकारी के वेतन भुगतान के आदेश के बाद भी प्रधानाचार्यो द्वारा पद का दुरूपयोग करते हुए वेतन भुगतान नहीं करने का अपराध किया जा रहा हैं। बडे दुर्भाग्य की बात हैं कि विभागीय स्तर पर निलम्बन जैसे कार्यवाही अमल में नहीं लाना खेदजनक हैं। साथ ही सात दिवस में पीडित दम्पति को वेतन भुगतान करने एवं दोषी प्रधानाचार्यों को निलम्बित नही किये जाने की स्थिति में संगठन द्वारा आन्दोलन किया जायेगा जिसकी समस्त जवाबदेही शिक्षा प्रशासन की रहेगी। इसके अलावा जिन शिक्षकों का महात्मा गांधी एवं विवेकानन्द मॉडल स्कूलों में चयन हुआ हैं उन्हें कार्यमुक्त करने को लेकर पीईईओ कम प्रधानाचार्यो द्वारा येनकेन प्रकार से की जा रही आनाकानी पर विराम लगाते हुए अविलम्ब कार्यमुक्त करने हेतु सख्त हिदायत दी जाये। राज्य सरकार द्वारा जिन शिक्षकों के तबादले किये हैं उन्हे कार्यमुक्त नहीं किया जाना शासन के आदेश की अवहेलना हैं। शासन द्वारा जिन शिक्षकों को हटाया गया हैं वे विद्यालयों की तालाबन्दी की घटना करवाकर एवं आशान्वित जिले की आड में बैठे हैं उन्हे राज्यादेश की पालना में कार्यमुक्त किया जाये। सरकार के आदेश के बावजूद तबादले पर आने वाले कार्मिकों को ऑन लाईन कार्यग्रहण करवाने की बजाये आफलाईन कार्यग्रहण करवाया जा रहा हैं, यह इसलिये किया जा रहा हैं कि जिन्हे कार्यमुक्त कर भेजने था उन्हे न भेजकर वही बैठाये रखा गया हैं जो शासन के आदेश की तौहिन है। सीडीईओ महलावत ने संगठन के प्रतिनिधिमंडल को आश्वस्त किया कि आदेश की पालना नहीं करने वाले प्रधानाचार्य खडात एवं मूंगथला के खिलाफ सख्त कार्यवाहीं अमल में लाई जाएगी। 
मीडिया प्रभारी के अनुसार प्रतिनिधिमंडल में जिला अध्यक्ष देवेश खत्री, जिला मंत्री इनामुल हक कुरैशी, सभाध्यक्ष भगवत सिंह देवड़ा, उपशाखा अध्यक्ष इन्दरमल खंडेलवाल, शिवगंज अध्यक्ष छगनलाल भाटी, रेवदर अध्यक्ष विनोद नैनावत, सविता शर्मा, धर्मेन्द्र खत्री, भीखाराम कोली, रमेश परमार, नवनीत माथुर, ओमजीलाल शर्मा, अयुब खान, भंवरसिंह दहिया, सत्य प्रकाश आर्य, हरीश खण्डेलवाल सहित दो दर्जन पदाधिकारियो की उपस्थिति मे वार्ता हुई।

Share this story