साहित्यकार अशोक गोयल पटना में राष्ट्रीय अवार्ड आदि शक्ति सम्मान- 2022 से होंगे सम्मानित 

pic

utkarshexpress.com पिंडवाड़ा (राजस्थान)-- अंतर्राष्ट्रीय सामयिक परिवेश अध्याय ने वरिष्ठ कवि एवं साहित्यकार कवि अशोक गोयल पिलखुवा को राष्ट्र के वरिष्ठ एवं श्रेष्ठ रचनाकार के रूप में चयनित कर उनको राष्ट्रीय अवार्ड आदि शक्ति सम्मान- 2022 से सम्मानित करने का निर्णय लिया है। यह सम्मान उनको 27,28,29 जुलाई को पटना में तीन दिवसीय विराट कार्यक्रम में दिया जायेगा । प्रेरणा हिंदी प्रचार सभा के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी गुरुदीन वर्मा के अनुसार वरिष्ठ कवि एवं साहित्यकार कवि अशोक गोयल सामयिक परिवेश अध्याय से अनेक वर्षों से जुड़ सक्रिय रूप से अपनी निस्वार्थ भाव से  साहित्य सेवा दे रहे है। कवि अशोक गोयल को इससे पूर्व अनेक अंतर्राष्ट्रीय व राष्ट्रीय पुरस्कारों से अनेक राष्ट्रीय साहित्यिक संगठन  सम्मानित कर चुके हैं गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड  रिकॉर्ड्स के अलावा , गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्डस, नेशनल पीस अवार्ड , बिहार राज्य शिक्षा भूषण सम्मान, छत्तीसगढ़ शिक्षा भूषण सम्मान, प्रजा शक्ति अवार्ड, आजाद हिंद सेना स्मृति सम्मान, मातृका देश प्रेम सेवा सम्मान, साहित्य सेवा सम्मान, साहित्य रत्न सम्मान, साहित्य गौरव सम्मान, मातृ का विवेक स्वराष्ट्र गौरव सम्मान, विवेकानंद स्मृति सम्मान, भारत माता अभिनंदन सम्मान , अंतर्राष्ट्रीय साहित्य सेवा सम्मान, हिंदी साहित्य सेवा सम्मान, काव्य शिरोमणि सम्मान, अटल बिहारी वाजपेई हिंदी प्रेरणा पुरुस्कार सम्मान, मातृका काव्य मंजूषा सम्मान, राष्ट्रीय सेवक सम्मान, देश भक्त सेवा सम्मान, हिंदी साहित्य श्रेष्ठ कलमकार सम्मान , साहित्य साधक सम्मान,कुटुंब के स्तंभ सम्मान, राष्ट्रीय एकता पुरुस्कार सम्मान , कोंच फिल्म फेस्टिवल द्वारा कौंच काव्य कुंभ सम्मान , काव्य गौरव सम्मान, लौह पुरुष सम्मान, सजग राष्ट्र प्रहरी सम्मान, शहीद चंद्रशेखर आजाद स्मृति सम्मान, काव्य रत्न सम्मान , साहित्य आगमन सेवा सम्मान, कारगिल शहीद दाताराम स्मृति सम्मान, साहित्य भूषण सम्मान, कला संस्कृति सम्मान,काव्य शिरोमणि सम्मान, नेपाल साहित्य रत्न सम्मान, साहित्य सरगम सम्मान , सूर्यकांत त्रिपाठी निराला साहित्य सम्मान, हिंदी साहित्य अटल सम्मान, साहित्य श्री सम्मान, महा कौशल काव्य श्री सम्मान, साहित्य गौरव सम्मान, सारस्वत सम्मान 2020 , मीराबाई सम्मान, मध्य प्रदेश गौरव सम्मान,संत कबीर सम्मान, शिक्षक रत्न सम्मान। आदि अनेक सम्मानों से सम्मानित किए जा चुके है। कवि अशोक गोयल राष्ट्र के अनेक साहित्यिक संगठनों में राष्ट्रीय दायित्व ले साहित्य की सेवा में लगातार प्रयत्न शील हैं। साहित्य सेवा में कब दिन निकलता है कब रात हो जाती है पता ही नही चलता ।आज कवि अशोक गोयल राष्ट्रीय कवि संगम में प्रांतीय मुख्य संयोजक पश्चिमी उत्तर प्रदेश व भारत माता अभिनंदन संगठन के राष्ट्रीय संगठन मंत्री होकर देश की सेवा कर रहे समाज सेवियों , साहित्य सेवियों, डॉ ,वकील, पत्रकार, शिक्षक या अन्य किसी भी प्रकार से मां भारती की सेवा कर रहे हजारों सेवियों को सम्मानित करने का पवित्र कार्य कर देश भक्ति का जज्बा पैदा करने में लगे हुए हैं। इसके अतिरिक्त छोटे व युवा बच्चो को काव्य संध्या के माध्यम से देश प्रेम की भावना पैदा करना उनका एक पवित्र कार्य है।

Share this story