बुलंदी साहित्यिक सेवा समिति द्वारा हिंदी पखवाड़े के उपलक्ष्य में चित्रांकन प्रतियोगिता का आयोजन

pic

utkarshexpress.com पिण्डवाड़ा(राजस्थान)- बुलंदी साहित्यिक सेवा समिति द्वारा हिंदी भाषा के प्रचार-प्रसार के लिए हिंदी पखवाड़े के उपलक्ष्य पर अकादमी नबीनगर ,एनटीपीसी, बिहार, के प्रांगण में कक्षा एक से आठवीं तक के विद्यार्थियों के लिए चित्रांकन प्रतियोगिता का आयोजन किया गया जिसकी संयोजिका उक्त विद्यालय की हिंदी शिक्षिका आदरणीया विनीता जायसवाल जी रहीं। हिंदी के सम्मान में आयोजित इस प्रतियोगिता का विषय 'भारत की है शान हिंदी' रहा। इस कार्यक्रम में विद्यालय के प्राचार्य सहित सभी शिक्षिकाओं/ शिक्षकों का अद्वितीय योगदान रहा और कार्यक्रम की संयोजिका आदरणीया विनीता जयसवाल के उत्कृष्ट संयोजन में यह कार्यक्रम पूर्णतः सफल हुआ। प्रतियोगिता के परिणाम की घोषणा हिंदी दिवस के शुभ अवसर पर की जाएगी तथा बुलंदी साहित्यिक सेवा समिति द्वारा सभी विजेताओं को प्रशस्ति-पत्र भी दिए जाएंगे। इस अविस्मरणीय कार्यक्रम के आयोजन हेतु विनीता जायसवाल  ने बुलंदी साहित्यिक सेवा समिति के संस्थापक बादल बाज़पुरी का आभार व्यक्त किया है।
 मीडिया प्रभारी गुरुदीन वर्मा के अनुसार बुलंदी साहित्यिक सेवा समिति हमेशा हिंदी भाषा के प्रचार-प्रसार और साहित्यिक उत्थान का काम करती है, हाल ही में बुलंदी ने 370 घंटे का वर्चुअल कवि सम्मेलन आयोजित किया जिसमें 35 देशों के 2290 कवियों ने अपने प्रतिभागिता प्रदर्शित की और इसी के साथ बुलंदी साहित्यिक सेवा समिति ने दूसरी बार इंडिया वर्ल्ड रिकॉर्ड में अपना नाम दर्ज कराया। यह समिति अब तक दो बार विश्व कीर्तिमान स्थापित कर चुकी है और ऐसे ही निरंतर साहित्यिक सेवाओं में अपनी उत्कृष्ट भूमिका निभाती रहती है तथा नवोदित कलाकारों के उत्थान का कार्य भी करती रहती है।

Share this story