छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, असम, ओडिशा में बारिश का कहर 

national

utkarshexpress.com-पिछले कुछ दिनों से जारी बारिश के चलते नाले-नदियां उफान पर हैं। कई क्षेत्रों में सड़क संपर्क कट गया है। बस्तर जिले में भारी बारिश का सबसे ज्यादा असर दिख रहा है। बीते पांच दिनों में दो लोगों की मौत हो चुकी है।
मध्य प्रदेश के भी कई इलाकों में भारी बारिश हो रही है। राजधानी भोपाल में मंगलवार को झमाझम बारिश हुई। कई जिलों में बाढ़ की स्थिति है। अगले कुछ दिनों में मध्य प्रदेश के कई जिलों में बारिश को लेकर अलर्ट जारी किया गया है।
ओडिशा में पिछले दो दिनों जारी बारिश भी लोगों की परेशानी बढ़ा रही है। भारी बारिश के कारण गजपति जिले के नुआगड़ ब्लाक के नुआपल्ली गांव में पहाड़ की चट्टान खिसकने से सात घर पूरी तरह से ध्वस्त हो गए हैं। अगले 24 घंटे में इसके और अधिक सक्रिय होने की सम्भावना है। इसके प्रभाव से अगले दो दिन तक पूरे राज्य में भारी बारिश होने आशंका है।
उत्तर-पूर्वी राज्य असम में इस साल बाढ़ और भूस्खलन से करीब 90 लाख लोग प्रभावित हुए हैं। इसके अलावा अब तक 192 लोगों की मौत हो चुकी है। 12 जिलों के करीब 5.39 लाख लोग अब भी बाढ़ से प्रभावित हैं। 38,751 लोग अब भी आठ जिलों के 114 राहत शिविरों में रह रहे हैं।गोदावरी नदी में बाढ़ आ गई है। नदी किनारे बसे गांवों में पानी भर गया है। रेस्क्यू आपरेशन चलाकर 9,600 से अधिक ग्रामीणों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया है। कोनसीमा के जिला कलेक्टर हिमांशु शुक्ला ने कहा कि 10 राहत शिविर खोले हैं। इन शिविरों में बाढ़ प्रभावित लोगों के लिए भोजन की व्यवस्था की गई है।

Share this story