राजस्थान शिक्षक संघ ने की प्रधानाचार्य को निलंबित करने की माँग 

pic

utkarshexpress.com शिवगंज(राजस्थान) - राजस्थान शिक्षक संघ (प्रगतिशील) के प्रदेश मुख्य महामंत्री धर्मेन्द्र गहलोत के नेतृत्व में प्रतिनिधि मण्डल ने राजस्थान के जन अभाव अभियोग निराकरण समिति के चेयरमैन पुखराज पाराशर के सुमेरपुर आगमन पर जन सुनवाई के दौरान ज्ञापन सौंपकर प्रधानाचार्य मूंगथला व खडात द्वारा  शासन के आदेश की पालना नहीं करने पर प्रधानाचार्यों को निलंबित करने की मांग की।

मीडिया प्रभारी गुरुदीन वर्मा के अनुसार संघ (प्रगतिशील) के मुख्य महामंत्री गहलोत ने बताया है कि शासन के आदेश की पालना नही होने से शिक्षा प्रशासन में संवेदनहीनता पनप रही हैं। अनुसूचित जाति पीडित दम्पति सत्यनारायण बैरवा एवं सविता बैरवा को पिछले 3 वर्ष से परेशान किया जा रहा हैं और नियुक्ति अधिकारी के वेतन भुगतान के आदेश के बाद भी प्रधानाचार्यो द्वारा पद का दुरूपयोग करते हुए वेतन भुगतान नहीं करने का अपराध किया जा रहा हैं। बडे दुर्भाग्य की बात हैं कि विभागीय स्तर पर निलम्बन मे विलम्ब खेदजनक हैं।  उक्त मामले को लेकर पाराशर ने संगठन को अवगत कराया कि जल्दी दोषी प्रधानाचार्य के विरुद्ध कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

मीडिया प्रभारी वर्मा के अनुसार प्रतिनिधिमंडल में शिवगंज अध्यक्ष छगनलाल भाटी, रमेश कुमार रांगी, प्रवीण जानी, बलवंत सिंह राठौड, जोरा राम मेघवाल, भंवरलाल लाल हिंडोनिया, मदन सिंह देवड़ा आदि उपस्थित थे।

Share this story