पोकरण में प्रदेश शैक्षिक अधिवेशन में शिक्षक नेताओं द्वारा किया जायेगा शैक्षिक नवाचार पर मंथन - धर्मेन्द्र गहलोत   

pic

utkarshexpress.com सिरोही (राजस्थान) - राजस्थान शिक्षक संघ (प्रगतिशील) के राज्य स्तरीय शैक्षिक अधिवेशन दिनांक 25 व 26 नवम्बर 2022 को राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय पोकरण जिला जैसलमर में मुख्य अतिथि साले मोहम्मद अल्प संख्यक मामलात मंत्री राजस्थान सरकार जयपुर अघ्यक्ष अब्दुल्ला फकीर पूर्व जिला प्रमुख एवं जिला परिषद सदस्य जैसलमेर विशिष्ठ अतिथि मनिष पुरोहित चेयरमेन नगर पालिका पोकरण आयोजित होगा जिसमें राज्य भर के शिक्षक प्रतिनिधि एवं शिक्षक नेताओं का पोकरण में जमावडा होगा। 
संगठन के प्रदेश मीडिया प्रभारी गुरुदीन वर्मा के अनुसार जिला मंत्री इनामुल हक कुरैशी ने बताया कि अधिवेशन में प्रदेशाध्यक्ष श्यामलाल आमेटा, सभाध्यक्ष अयुब हुसैन नीलगर, मुख्य महामंत्री धर्मेन्द्र गहलोत, कार्यकारी प्रदेशाध्यक्ष नीरज शर्मा, वरिष्ठ उपाध्यक्ष निहाल सिंह, ओम आचार्य, प्रीति गुर्जर, जयकिशन पंचारिया, हनवन्त सिंह मेडतिया, अशोक कुमार त्रिवेदी, नरेन्द्र शर्मा की उपस्थिति में शिक्षकों की विभिन्न समस्याओं पर व्यापक स्तर पर चर्चा होगी जिसमें नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति, भारतीय संविधान की महत्ता पर प्रकाश, शिक्षा पाठ्यक्रम में खेलकूद को अनिवार्य विषय घोषित करने, विधवा परित्याकत्ता एवं तलाकशुदा महिला को योग्यता आधार पर शिक्षिका एवं अन्य पदों पर सीधी भर्ती किये जाने, नेत्रहिन शिक्षकों को उनके गृह जिलो में प्राथमिकता के आधार पर नियुक्ति दिये जाने, सातवें वेतन आयोग की विसंगति के लिए गठित डीसी सामन्त कमेटी की लाभकारी सिफारिशे 1 जनवरी 2016 से लागु करवाने, तृतीय श्रेणी शिक्षकों के स्थानान्तरण करवाने, एकीकरण के तहत बन्द विद्यालयों को पुनः खुलवाने, प्रारम्भिक शिक्षा विभाग में पूरे राजस्थान में शहरी क्षेत्र में 70 प्रतिशत से अधिक रिक्त पदो को भरने, प्रयोगशाला सहायक से अध्यापक पद पर समायोजित शिक्षकों को अध्यापक के समान समस्त परिलाभ दिये जाने, पदोन्नति प्राप्त व्याख्याताओं की ग्रेड पे 5400 कर 10-20-30 के स्थान पर 9-18-27 का चयनित वेतनमान दिये जाने, माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक विद्यालयों में इस वर्ष नामांकन वृद्धि के फलस्वरूप पदों को सृजित करवाने, अप्रशिक्षित पैराटीचर्स का मानदेय दुगुना करवाने, उप प्रधानाचार्य का नवीन कैडर बनाकर ग्रेड पे 6000 करवाने, शिक्षकों को बीएलओं एवं गैर शैक्षणिक कार्यो से मुक्त करवाने, पीडी हैड के शिक्षकों की वेतन व्यवस्था माह की पहली तारिख को सुनिश्चित करवाने, समय बद्ध पदोन्नति प्रक्रिया शुरू करवाने, राज्य सरकार द्वारा एनपीएस को ओपीएस में बदलने के ऐतिहासिक फैसले पर सरकार का धन्यवाद प्रस्ताव पारित करने सहित समस्याओं पर चर्चा कर राज्य सरकार को भेजे जायेंगे। अघिवेशन संयोजक नवनारायण जोशी एवं सह संयोजक नारायणदास शर्मा ने तैयारियों को अन्तिम रूप दिया है।

Share this story