हिंदी के उत्थान में सहभागी बने : कवि संगम त्रिपाठी

pic

Utkarshexpress.com, Jabalpur- प्रेरणा हिंदी रथयात्रा के सूत्रधार कवि संगम त्रिपाठी ने कहा कि हिंदी के उत्थान में सभी हिंदी प्रेमी सहभागी बने व हिंदी को सशक्त बनाने में अहम भूमिका निभाते हुए सहयोग प्रदान करें। 
दुनिया में हिंदी की पहचान बनाने के लिए सबसे पहले अपने देश में हिंदी को राष्ट्रभाषा बनाकर सभी शैक्षणिक विषयों को अपनी भाषा हिंदी में पठन-पाठन प्रारंभ हो। हमारे देश में विद्वानों, मनीषियों की कोई कमी नहीं है आवश्यकता है उनके मार्गदर्शन की।
आज आजादी के 75 वर्ष होने पर भी हमें अपनी भाषा की मान्यता हेतु लड़ाई लड़नी पड़े यह मनीषियों के देश में प्रश्नचिन्ह है। आप सभी के सहयोग से हिंदी को सम्मान मिले यही अभिलाषा है।    -  ( कवि संगम त्रिपाठी   संपर्क-9407854907)

Share this story