जिंदगी में जान बा - अनिरुद्ध कुमार

pic

जान पहचान मान, जिंदगी में जान बा।
होठ मुस्कान पान, दोस्ती के शान बा।।
चाल मस्तान तान, लागता सेयान बा।
मीठ मिष्टान बान, प्रेम के दोकान बा।।

हो जहां मानदान, केतना आराम बा।
रोज गुनगान मान, देवता पूजान बा।।
रात-दिन तोर मोर, आफते नेवान बा।
हर घड़ी खींचतान, नेत बेईमान बा।।

देश कुर्बान यानि, आदमी तूफान बा।
प्राण बलिदान मान, वीरता के गान बा।।
मेहनत से अनाज, काबिले-इंसान बा।
गावता लोग गान, देशवा के जान बा।।

देश जयगान मान, तीरंगा में शान बा।
रोज अभिमान गान, लोगवा में प्राण बा।।
झूमता पोर-पोर, भारती के गान बा।
देखलीं आनबान, शान हिंदुस्तान बा।।  
अनिरुद्ध कुमार सिंह, धनबाद, झारखंड
 

Share this story