संक्रांत - जया भराड़े 

pic

पतंग उड़ाना,
तिल गुड लड्डू खाना
बधाई और शुभ कामनाएं देना,
हल्दी कुंकुम पार्टी करना,
अन्न वस्त्र निवाला,
दान करना,
मात्र नहीं है,
दिलों को जोड़ने,
का अथक प्रयास, 
भीहै मौज मस्ती,
और प्यार का,
संदेश भी है। 
सारे जहाँ में,
लोगों का आपस में,
प्रेम शांति का,
शाश्वत मिलन सार,
का अनोखा रहस्य,
से संसार प्रमाणित, 
भी और अलंकृत है। 
-जया भराडे बडोदकर
नवी मुंबई, महाराष्ट्र

Share this story