पंजाब हरियाणा दिल्ली उत्तर प्रदेश के कुछ क्षेत्रों में शुरु हुई कड़ाके की ठंड

national

मकरसंक्राति के ठीक पहले देश के पश्चिमोत्तर क्षेत्र और मध्य भारत के पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, मध्य प्रदेश और गुजरात के कुछ क्षेत्रों में ठिठुरन भरी कड़ाके की ठंड शुरु हो गई है। इन क्षेत्रों में न्यूनतम और अधिकतम तापमान का अंतर घट जाने की वजह से ठंड का एहसास बहुत बढ़ गया है। अगले कुछ दिनों न्यूनतम तापमान सामान्य से नीचे ही रहेगा। जबकि अगले दो तीन दिनों तक हिमालयी राज्यों समेत समूचे उत्तरी व पश्चिमी राज्य घने कुहरे की चपेट में रहेंगे।

चालू सर्दी के मौसम की सबसे तेज ठंड पड़ रही है। हवाओं में नमी की कम मात्रा की वजह से ठिठुरन बढ़ गई है। समूचे उत्तरी राज्यों में तापमान सामान्य दो से तीन डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया जा रहा है। मौसम के इस प्रभाव से रबी सीजन की फसलों पर अच्छा असर पड़ेगा। खेतों में खड़ी प्रमुख फसल गेहूं के लिए बहुत अच्छा मौसम जा रहा है। लेकिन आगे पड़़ने वाले कुहरे से फूल ले चुकी फसलों की उत्पादकता पर विपरीत असर पड़ सकता है। जबकि पहाड़ी राज्यों में हो रही बर्फबारी से सेब की फसल के लिए फायदेमंद साबित होगी। लेकिन सेहत के लिए हिसाब से यह भारी मुश्किलों वाला साबित हो रहा है।

पंजाब, उत्तराखंड, बिहार, झारखंड, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, उत्तरी राजस्थान में अगले कई दिनों तक घना कुहरा पड़ने का भारतीय मौसम विभाग का पूर्वानुमान है। मौसम विभाग ने मध्य भारत के साथ पूर्वोत्तर भारत में बारिश का अनुमान है। पश्चिमी विक्षोभ से उत्तरी व पूर्वी उत्तर प्रदेश पर चक्रवाती हवाओं का प्रभाव रहेगा। इससे दक्षिणी छत्तीसगढ़ का इलाका भी प्रभावित रहेगा। अगले तीन चार दिनों तक ठंड के इस दौर मध्य भारत पछुआ हवाओं के झकोरे में रहेगा।

Share this story