यूपी में गांव में ही बनेंगे आय, निवास और जाति प्रमाणपत्र : योगी 

up

Utkarshexpress.com लखनऊ। ग्रामीण अब अपने गांव में ही भूमि से जुड़े कागजात के साथ आय, जाति और निवास के प्रमाणपत्र आनलाइन हासिल कर सकेंगे। उन्हें अब ब्लाक, तहसील और जिला मुख्यालय का चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा। साथ ही इन अभिलेखों को हासिल करने में ग्रामीणों का पैसा और समय भी बचेगा। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ग्राम सचिवालय की शुरुआत करके सही मायने में पंचायतीराज व्यवस्था की परिकल्पना को साकार करने जा रही है। ग्राम सचिवालय में शासन की सभी योजनाओं की जानकारी और बैंकिंग सुविधाओं का लाभ मिलेगा। ग्राम प्रधान के नेतृत्व में गठित इन ग्राम सचिवालय में सहयोग के लिए उत्तर प्रदेश की सभी गांवों में पंचायत सहायक की तैनाती की गई है। सचिवालय में सचिव और बैंक सखी भी बैठेंगी। इनके जरिए 'बैंक आपके द्वार' का सपना साकार होगा। बैंक के प्रतिनिधि गांव में आकर ऋण व बचत से जुड़ी जानकारी और उसकी सुविधा देने के साथ ही खाता खोलने की सहूलियत भी मुहैया कराएंगे। अभी तक खेती-किसानी से जुड़ी जरूरतों के लिए किसानों को बैंक का चक्कर लगाना पड़ता है। इससे बचने के लिए किसान कभी-कभी साहूकारों के चंगुल में फंस जाते थे।

Share this story